गांव में पैसे कमाने के तरीके, gaon me paise kamane ka tarika, soil testing center, seed and fertilizer stores, common service center, grocery store
Village business ideas : गांव में पैसे कमाने के तरीके

कोरोना काल में लाखों लोग बेरोजगारी के कगार पर पहुंच गए हैं। लॉकडाउन की वजह से प्रवासी मजदूर अपने गांव लौट चुके हैं। उनके पास अब जीवोकोपार्जन के लिए कोई सहारा नहीं है। वे करें तो क्या करें, शहर में उन्हें नौकरी के कई ऑप्शन थे। लेकिन अब वे गांव में पैसे कमाने के तरीके (gaon me paise kamane ka tarika) खोज रहे हैं। गौरतलब है कि गांव में पहले से ही लोग पैसे कमाने के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। ऐसे में इन दिनों गांव में लाखों लोग बेरोजगार बैठे हैं।


तो आज हम द रूरल इंडिया क इस ब्लॉग में गांव में पैसे कमाने के तरीके बता रहे हैं। जिसे करके आप अपने गांव में अच्छी कमाई कर बेहतर जिंदगी जी सकते हैं।


तो आइए, इस ब्लॉग में गांव में पैसे कमाने के तरीके (gaon me paise kamane ka tarika) जानें।


मिट्टी परीक्षण केंद्र (soil testing center)


गांव में जीविकोपार्जन का मुख्य साधन है खेती। गांव में किसानों को खेती की नवीनतम जानकारियों का अभाव रहता है। उन्हें उनके मिट्टी की सही जानकारी नहीं होती है। सरकार किसानों के लिए मिट्टी स्वास्थ्य परीक्षण के सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम लॉन्च की है। इसके लिए सरकार की मदद से आप मिट्टी परीक्षण केंद्र खोल सकते हैं, जो गांव में सबसे अधिक चलने वाला व्यवसाय (Village business ideas) हो सकता है।


बीज एवं खाद भंडार (seed and fertilizer stores)


खेती में बीज और खाद अहम रोल अदा करता है। खाद के बिना खेती की परिकल्पना नहीं की जा सकती है, चाहे आप जैविक खेती करें या रासायनिक। पौधों को खाद की जरूरत पड़ती ही है। ऐसे में बीज एवं खाद भंडार की दुकान आपके लिए सबसे अच्छा बिजनेस ऑप्शन हो सकता है।


गौरतलब है कि अब सरकार भी बीज और खाद की दुकान खोलने के लिए बीएससी(एग्रीकल्चर) अनिवार्यता खत्म कर चुकी है। इसके लिए कोई विशेष डिग्री की जरूरत नहीं होती है। बीज एवं खाद के अलावा आप दुकान में खेती में प्रयोग होने दवाइयों की भी बिक्री कर सकते हैं।


खरीफ और रबी की सीजन में बीज की मांग बहुत बढ़ जाती है। ऐसे में आप गांव में ही बीज एवं खाद भंडार खोल कर अच्छी आमदनी के साथ जीविकोपार्जन कर सकते हैं।


कृषि उपकरण केंद्र (farm equipment center)


हमारे देश में अधिकांश किसान छोटे या सीमांत किसान है। वे इतने गरीब हैं कि खेती के उपकरण खरीद नहीं सकते हैं। यदि आपके कुछ जमा पूंजी है, तो आप कृषि उपकरण केंद्र खोल सकते हैं और इन उपकरणों को किराये पर दे सकते हैं। कृषि उपकरण केंद्र आपके लिए फायदे का सौदा हो सकता है। इससे आपको अच्छी आमदनी होगी।


इसके लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही कृषि यंत्र सब्सिडी योजना (SMAM- Sub Mission on Agricultural Mechanization ) का भी लाभ ले सकते हैं। इस योजना के तहत सरकार कृषि उपकरणों की खरीद पर 50 से 80 प्रतिशत तक का अनुदान देती है। इस योजना का लाभ लेने के लिए अधिकारिक वेबसाइट https://agrimachinery.nic.in/  पर आवेदन कर सकते हैं।


कॉमन सर्विस सेंटर (common service center)


आज के डेट में कॉमन सर्विस सेंटर काफी लोकप्रिय व्यवसाय है। क्योंकि अब सभी सरकारी काम ऑनलाइन हो चुके हैं। ऐसे में लोगों को ऑनलाइन से जुड़ी सभी कामों के लिए कॉमन सर्विस सेंटर (common service center) जाना पड़ता है।


इसे खोलने के लिए आपको कुछ प्रक्रिया से गुजरना पड़ सकता है। इसके लिए सरकार द्वारा कॉमन सर्विस सेंटर खोलने की प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन रखी गई है। आवेदन करने वाले व्यक्ति के पास उसका रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और एक ईमेल आईडी होने आवश्यक है। आप इसके कॉमन सर्विस सेंटर की वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं।


ढाबा या भोजनालय (dhaba or restaurant)


यदि आपका गांव किसी हाइवे या राष्ट्रीय राजमार्ग पर है, तो ढाबे का व्यवसाय आपके इनकम में चार चांद लगा सकते हैं। अधिकांश बड़ी गाड़ियां और लंबे सफर के यात्री इन्ही हाइवे से होकर गुजरते हैं।  आपको बता दें, यात्री और वाहन चालक इन्हीं ढाबों पर खाना ज्यादा पसंद करते हैं। ऐसे में आप अपने गांव में एक शानदार ढाबा खोलकर अच्छी आमदनी कर सकते हैं।


तेल पेराई मशीन oil crushing machine


गांव में पैसे कमाने के तरीके में तेल पेराई मशीन सबसे अच्छा बिजनेस ऑप्शन हो सकता है। कम पूंजी में तेल पेराई मशीन लगाकर अच्छी आमदनी कर सकते हैं। यह जरूरी नहीं है कि आप केवल गांव वालों की ही तिलहनों की पेराई करें। आप तेल निकाल उसे पैकिंग कर बाजार में भी बेच सकते हैं।  इससे आपको अधिक लाभ होगा। यदि आपके पास कुछ पूंजी है तो खाद्य विभाग से रजिस्ट्रेशन कराकर आप अपने ब्रांड के नाम से देशभर में तेल की बिक्री कर सकते हैं।


आटा चक्की की मशीन (flour mill machine)


गांव के साथ-साथ शहरों में भी आटे चक्की की मशीन खूब चलती है। जो लोग शुद्ध खाना पसंद करते हैं। वे अपने अनाज को इन्हीं मशीनों से पीसाई का काम कराते हैं। इससे आपको गांव में ही रोजगार मिल सकता है। इसके लिए आप खाद्य विभाग से अनुमति लेकर अपने ब्रांड के नाम से आटा, बेसन की बिक्री कर सकते हैं।


किराना दुकान (grocery store)


गांव में पैसे कमाने के तरीके में किराने की दुकान सबसे आगे है। इसके बिना गांव के लोग रह ही नहीं सकते हैं। गांव के लोग खाद्य सामग्री के लिए किराने की दुकान पर ही निर्भर होते हैं। गांव जनरल स्टोर खूब चलते हैं। गांव में कोई मॉल या बड़े स्टोर नहीं होते हैं। गांव के जनरल स्टोर में आप कई तरह के सामान रखकर पैसे कमा सकते हैं। गांव में यह सबसे ज्यादा चलने वाला व्यवसाय है। ऐसे में आप अपने जीविकोपार्जन के लिए एक छोटा सा जनरल स्टोर खोल सकते हैं।


आपको बता दें, गांव में पैसे कमाने के तरीके (gaon me paise kamane ka tarika) और भी है। जिसका जिक्र हम आने वाले ब्लॉग में करेंगे।


ये तो थी गांव में पैसे कमाने के तरीके की बात। लेकिन, इस वेबसाइट पर आपको कृषि एवं मशीनीकरण, सरकारी योजनाओं और ग्रामीण विकास जैसे मुद्दों पर भी कई महत्वपूर्ण ब्लॉग्स मिलेंगे, जिनको पढ़कर अपना ज्ञान बढ़ा सकते हैं।


अगर आपको यह ब्लॉग अच्छा लगा हो, तो इसे मित्रों तक जरूर पहुंचाए। जिससे अन्य मित्र भी गांव में पैसे कमाने के तरीके जान सकें।


यह भी पढ़ें-


Axact

हमें सहयोग करने के लिए यहां क्लिक करें. 👉 Contribute Now 🙏

The Rural India बड़े मीडिया हाउस की तरह वित्त पोषित नहीं हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन और सहयोग की जरूरत है। अतः आप हमें आर्थिक सहयोग जरूर करें।

Post A Comment:

0 comments: