भारत की लगभग 70% जनसंख्या गांव में निवास करती है, जिसमें करीब 56% लोग कृषि में अपना योगदान देते हैं। फिर भी भारत में मीडिया किसानों के लिए महज 5 से 10 प्रतिशत ही खबरों को कवर करती है।

जबकि देश के लिए भोजन की व्यवस्था करने वाले किसान को नई कृषि तकनीकी उन्नत बीज, खाद, नए उपकरण, जैविक खेती, पानी की सदुपयोग के लिए माइक्रो सिंचाई, बागवानी, फल-सब्जी उत्पादन, नकदी फसलों को बढ़ावा, औषधीय खेती, और विपणन आधारित खेती विस्तार सेवाओं के लिए नियमित प्रशिक्षण एवं जानकारी दिए जाने की आवश्यकता है।

हम बड़े मीडिया हाउस की तरह वित्त पोषित नहीं हैं। कृषि और ग्रामीण पत्रकारिता को बढ़ावा देने के लिए The Rural India के पत्रकार और लेखक लगातार काम कर रहे हैं। 

हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने की जरूरत है। इसके लिए आपके समर्थन और सहयोग की जरूरत है। ऐसे में हमें आपके आर्थिक सहयोग की बेहद जरूरत है।

अतः यहां👉 क्लिककर हमें सहयोग करें।

अथवा 

Donate At                                                            

UPI ID: [email protected]

Paytm; 7348214856 

QR Code पर स्कैन करें।🙏

The Rural India

0 comments: